बिहार में प्रतिदिन 25 हजार से अधिक लोगों का होगा कोरोना टेस्ट

बिहार में प्रतिदिन एंटीजन किट से 12 हजार जांच करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस लक्ष्य से बिहार में प्रतिदिन कोरोना जांच की क्षमता 25 हजार से अधिक हो जाएगी। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा सभी प्राथमिक चिकित्सा केंद्रों (पीएचसी) में कोरोना जांच के लिए वर्तमान जो एंटीजन किट उपलब्ध कराए गए हैं, उससे 20 हजार सैम्पल की प्रतिदिन जांच किया जाना तत्काल सम्भव हो जाएगा। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी निर्देश के अनुसार सभी जिलों और प्रमण्डलवार एंटीजन किट से जांच का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

स्वास्थ्य विभाग के निर्देश के तहत एंटीजेंन किट से कोरोना के लक्षणात्मक मरीजों और कोरोना पॉजिटिव हो चुके मरीजों के संपर्क में आने वाले व्यक्तियों की जांच की जाएगी।

विभागीय निर्देश के अनुसार पटना में सबसे अधिक 750 सैम्पल का एंटीजेंन जांच प्रतिदिन किये जाने का लक्ष्य दिया गया है। वहीं, पूर्वी चंपारण में 590, मुजफ्फरपुर में 550 और छोटे जिले शिवहर में 75 व शेखपुरा में 70 जांच प्रतिदिन करने का लक्ष्य रखा गया है।

प्रमण्डलवार निर्देश के अनुसार सबसे अधिक तिरहुत प्रमंडल के जिलों में कुल 2460 सैम्पल की कोरोना जांच एंटीजेंन किट से की जाएगी। जबकि पटना प्रमंडल में 2115, सारण प्रमंडल में 1125, दरभंगा प्रमंडल में 1450, कोसी प्रमंडल में 705, मगध प्रमंडल में 1260, पूर्णिया प्रमंडल में 1240, भागलपुर प्रमंडल में 580 और मुंगेर प्रमंडल में 1065 सैम्पल की प्रतिदिन जांच के निर्देश दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *